Friday, February 24, 2012

उसने मुझे अब रिहा करने कि बात की है

उसने मुझे अब रिहा करने कि बात की है
सच में मुझे बर्बाद करने कि बात की है ।
खेलता था जो हर-पल मेरी जुल्फों से कभी
आज खुद को उनसे जुदा करने कि बात की है ।

______________हर्ष महाजन