मेरे काव्य संग्रह

                                      
साँझा काव्य संकलन
(1) सृज़न के पथ पर १९९५ –प्रकाशक , दृष्टीकोण , मंडोली नन्द नगरी दिल्ली |
(2) धुप ओसारे चढ़ी १९९६ –प्रकाशक ,स्टेट बैंक सहियक मंच, द्वारा राजभाषा अनुभाग दिल्ली आंचलिक कार्यालय |

प्रकाशक – जे एम् डी पब्लिकेशन, न्यू महावीर नगर , नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित पुस्तकें
:-
(3)  खुशबुओं का शहर २००३ (4) एकता की आवाज़ १९९९ (5) शायरों की महफ़िल २००१ (6) काव्य गरिमा २००२ (७) एकता की मिसाल २००४ (8) काव्य गौरव २००६

मेरा अपना काव्य संग्रह

(1) दास्तान-ए-ज़िंदगी
- प्रकाशक – जे एम् डी पब्लिकेशन, न्यू महावीर नगर , नई दिल्ली |


  xxxxxxxxxxxxx

कहानी - विश्वास
अक्टूबर १९९९ में ,
दिल्ली (बैंक) नगर राजभाषा कार्यान्वयन स्मिलती के तत्वावधान  में सदस्य बैंकों द्वारा आयोजित विभिन्न  अंत: बैंक प्रतियोगिताएं के परिणाम स्वरुप , कहानी  "विश्वास" पर  सर्वश्रेठ पुरूस्कार से सम्मानित किया गया |

ये कहानी बैंक भारती के दिसंबर १९९९  अंक में प्रकाशित की गयी |








xxxxxxxxxxxxxx





                                                -मेरा काव्य संग्रह -                           

दास्तान-ए-ज़िन्दगी 

 

श्री हर्ष महाजन का 'दास्तान-ए-ज़िंदगी' शीर्षक से हिंदी गीत-ग़ज़ल ऐसा संग्रह है जिसमें विषयगत विविधता के साथ विध्यागत विविधता के भी दर्शन होते हैं |
          यधपि ग़ज़ल का रिश्ता हिंदी परिवार से भले ही बहुत पुराना नहीं जय फिर भी आज हिंदी ग़ज़ल पूरी तरह अपना स्थान बना चुकी है | हर्ष महाजन ने अपनी ग़ज़लों में ग़ज़ल की मर्यादाओं का पूरी तरह निर्वाह करने का प्रयास किया है, यह उनकी काव्य-प्रतिभा, सर्जनात्मक क्षमता एवं अभिवयक्ति का परिचायक है |
         प्रस्तुत संग्रह की रचनाओं में आम आदमी से जुड़े दुःख दर्द एवं सामाजिक सरोकारों की स्पष्ट झलक दिखाई देती है | इन रचनाओं में उन्होंने अपनी सरल भाषा एवं लयात्मक शैली का प्रयोग करके थोड़े से शब्दों में बहुत कुछ कहने का प्रयास किया है |
          अंत में यह निश्चयपूर्वक कहा जा सकता है की प्रस्तुत काव्य संगः 'दास्तान-ए-ज़िंदगी' का काव्य जगत में भरपूर स्वागत होगा | इसी शुभकामना के साथ-

                                                                                         
                                                                                 

डॉ. पुष्पलता तनेजा
निदेशक
केन्द्रीय हिंदी निदेशालय
आर.के.पुरम (दिल्ली )


  


                                                                                        
                                                                                   
                                                                                   



मेरे साँझा संकलन पृष्ट